yahi hai chitrakoot

yahi hai chitrakoot

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

हे मंगलमय दीपमालिके आपका सुस्‍वागतम

हे मंगलमय दीपमालिके आपका सुस्‍वागतम

चित्रकूट की एक शाम

चित्रकूट की एक शाम

Wednesday, April 3, 2013

कैथी गांव में जारी रही राम धुन

हाकिम नकारा, हरि हर सहारा.. - लगातार दूसरे दिन भी उत्साह से भरे रहे वृद्ध, महिलाएं व बच्चे

- पुल के दोनों ओर सड़क बनाने के लिए सर्वेक्षण का काम प्रारंभ

हमीरपुर, निज प्रतिनिधि : समस्याओं से आजिज आकर भगवान की शरण में गए कैथी गांव व उसके मजरों के निवासी दूसरे दिन भी भोले बाबा के प्राचीन मंदिर में रामधुन करने में लगे रहे। गांव के बुजुर्ग नवजवानों में कीर्तन की लगन को देखकर प्रसन्नता से भरे हुए हैं, वहीं महिलाएं व बच्चे भी राम धुन गाने में पीछे नहीं है।

बुजुर्ग उम्मेद सिंह कहते हैं कि समस्याओं से निदान यह तरीका सबसे उत्तम है। कहा कि केवल भारत की नही देश से चित्रकूट में स्वामी कामतानाथ भगवान के दर्शनों के लिए लोग आते हैं। भगवान कामतानाथ को समस्याओं से समाधान का केंद्र बिंदु मानने वाला हर बुंदेलखंडी वहां का भक्त है। भगवान राम ने भी चित्रकूट में बारह साल निवास कर रावण का संहार करने के लिए ऊर्जा एकत्र की थी। कहा कि हमने भी अपनी समस्याओं से निजात के लिए उसी भगवान राम से गुहार लगाई है।

गांव के सतीश चंद्र शिवहरे, लाल जी पाल, राम बिलास सिंह, राकेश विश्वकर्मा आदि लोगों ने कहा कि गांधी जी ने तो रघुपति राघव राजा राम, सबको सन्मति दे भगवान का जाप कर देश को आजादी दिला दी थी। हम तो अपने गांव को उजाले की ओर ले जाने के लिए राम के नाम का जप कर रहे हैं। अब तो जब गांव में जब मुख्यमंत्री के चरण पडे़ंगे तभी इस यज्ञ की पूर्णाहुति होगी।

होने लगी सड़क की नाप

हमीरपुर : मंगलवार को दोपहर जैसे ही गांव के लोग राम-राम का कीर्तन करने बैठे ठीक उसके दो घंटे बाद हव तड़के लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी गांव पहुंच गए। उन्होंने चंद्रावल नदी पर सेतु निर्माण निगम द्वारा बनाए गए पुल की लम्बाई नापने के साथ ही दोनो तरफ की सड़क नापने का काम किया। ग्रामीणों का कहना है कि यह तो राम जी का प्रताप है, वह क्या क्या न करवा दें।

No comments:

Post a Comment