yahi hai chitrakoot

yahi hai chitrakoot

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

चित्रकूट की एक सुहानी शाम

हे मंगलमय दीपमालिके आपका सुस्‍वागतम

हे मंगलमय दीपमालिके आपका सुस्‍वागतम

चित्रकूट की एक शाम

चित्रकूट की एक शाम

Thursday, April 4, 2013

बहरी सरकार को सुनाने का सर्वश्रेष्ठ माध्यम है राम धुन'

हमीरपुर, निज प्रतिनिधि : 'अगर देश में कैथी जैसे सभी गांव हो जाएं तो फिर देश को सम्पन्नता के शिखर के साथ ही विश्व की सबसे बड़ी महाशक्ति बनने से कोई रोक नहीं सकता।' यह बातें भाजपा किसान मोर्चो के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश सिंह ने गुरुवार को भरुआ सुमेरपुर ब्लाक के कैथी गांव में श्री राम नाम संकीर्तन महायज्ञ अपना सहभाग दर्ज कराने के बाद कही।

गांव के प्राचीन शिव मंदिर में बृहस्पतिवार को लगातार 52वें दिन भी हर्ष व उल्लास के साथ राम धुन जारी रही। यहां लगभग दो घंटे राम धुन करने के बाद भाजपा नेता राजेश सिंह ने कहा कि बहरी सरकार को अपनी समस्याएं सुनाने का सर्वश्रेष्ठ माध्यम राम धुन कैथी के ग्रामीणों ने चुना है। आज के दौरान में जब छोटी छोटी बातों पर लोग सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाते हैं, वहीं इस गांव के लोगों ने भगवान के नाम के सहारे सरकार के मुखिया को संवेदित करने के लिए अचूक मंत्र राम का नाम इस्तेमाल किया है। इसलिए इस गांव के लोग वंदनीय हैं। आज के दौरान में भले ही लोग राम नाम के जप की महिमा को भली भांति न समझते हों पर इतना साफ है कि आने वाले दिनों में दुनिया इसका प्रभाव कैथी के माध्यम से देखेगी। सोया हुआ प्रशासन और शासन एक बार जाएगा और फिर कैथी में चमन बरसेगा।

राम धुन करने के पश्चात वे श्री राम नाम महायज्ञ के योद्धा भोला के घर भी गए। परिजनों से मिलकर उनका दुख बटाने का प्रयास किया और फिर आर्थिक मदद भी दी। उन्होंने कहा कि जल्द ही पूर्व मुख्यमंत्री और चरखारी से विधायक साध्वी उमा भारती का दौरा महोबा जिले में होने वाला है। वह प्रयास करेंगे कि दीदी यहां पर भी आकर रामधुन में भाग लें। गांव के उम्मेद सिंह, विकास शिवहरे, रानी यादव, प्रधानपति वासुदेव निषाद आदि ने कहा कि इस तरह से गांव में जननेताओं का आना उनके उत्साह की वृद्धि करता है। मुख्यमंत्री कब आएंगे यह तो तय नही हैं पर इतना साफ है कि एक न एक दिन उन्हें गांव आकर राम धुन में भाग लेना ही पड़ेगा। रामधुन करते हुए शहीद हो गए भोला की कल तेरहवीं हैं और उसकी याद को अनेकों वर्षो तक संजोने के लिए भी प्लान बनाया जा रहा है। जल्द ही इसकी घोषणा की जाएगी।

No comments:

Post a Comment